What is Backlinks in SEO – Backlinks Kya Hai? इसके क्या लाभ है?

By | July 1, 2020

What is Backlinks in SEO – Backlinks Kya Hai? और यह SEO के लिए कैसे लाभदायक है।

Search Engine Optimization (SEO) Backlinks में सबसे ज्यादा उपयोग होने वाला शब्द है। जिन लोगों ने अभी ब्लॉग्गिंग (Blogging) शुरू की है, उनको Backlink का अर्थ समझने में थोड़ा मुश्किल होता है।

इस पोस्ट के माध्यम से आपको What is Backlinks in SEO? Backlinks Kya Hai? इसके क्या लाभ है ? से जुडी जानकारी प्राप्त हो सकेगी, तो चलिए शुरू करते है:

What is Backlinks in SEO?

What is Backlinks in SEO

किसी भी वेबसाइट पर बाहर से आने वाले Links को Backlinks कहते है। अब सवाल यह है, कि इसको कैसे बनाया जाय? मान लीजिये backlinks.com आप की वेबसाइट है और आप को इसके लिए Backlinks बनाने है तो आप को इस वेबसाइट के लिए बहुत सारे सपोर्टिंग ब्लॉग, गेस्ट पोस्ट, फोरम पोस्ट (Blog, Guest Post, Fourm Links & PBN Links) बनाने होगें, यही प्रक्रिया बैकलिंक कहलाती है। बैकलिंक Off Page SEO के अंतर्गत आता है।

Backlinks से जुडी जानकारी में कई तरह के एक्सपर्ट की अपनी अलग – अलग राय है, यह कई तरीके से किया जाने वाला काम है इसके जरिये किसी भी वेबसाइट को गूगल के टॉप रैंक में लाया जा सकता है।

जब हम किसी (website or blog) को अन्य webpages के साथ link करते है तो यह प्रक्रिया ही Backlinks कहलाती है।

Backlink से related कुछ common terms जिसके बारे में आप को जानकारी होनी चाहिए:

Nofollow Link:

जब कोई वेबसाइट किसी दूसरी साइट या ब्लॉग को link करती है पर उस link के पास nofollow tag होता है, तो link juice pass नहीं करता। Page की ranking के लिए नोफ़ॉलो लिंक्स उपयोगी नहीं हैं क्योंकि वह कुछ भी contribute नहीं करते। Generally एक webmaster nofollow tag तब use करता है, जब वह किसी unreliable site से link out करता है। Example: others blogs पर comments से links.

Do-follow link:

By default, वह सभी links जो आप blog post में add करते हैं, यही लिंक do-follow links होते हैं और यह link juice pass करते हैं।

Link Juice:

जब कोई साइट आपके किसी भी आर्टिकल या आपकी मुख्य पृष्ठ(homepage) को link करता है, तो वह link juice pass करता है। यह link juice article की ranking में help करता है और Site की DA को भी improve करता है। As a blogger, आप nofollow tag का use करके link juice को pass होने से रोक सकते हैं।

Linking Root Domains:

अगर आपकी वेबसाइट पर किसी अलग तरीके की वेबसाइट से कितने backlinks आ रहें हैं, ये उसको refer करते हैं। Even यदि कोई वेबसाइट आपकी साइट से 10 बार link करती है तो फिर भी उसे एक linked root domain consider किया जायेगा।

Low Quality Links:

Low Quality Links वे links होते है जो कि harvested sites, automated sites, spam sites और even porn sites से आते हैं। यह links आप की वेबसाइट को बहुत नुक्सान पहुंचते हैं। इसी लिए कहा जाता है की कभी भी बैकलिंक खरीदना नहीं चाहिए हमेसा अपने से ही बैकलिंक बनाना चाहिए।

Internal Links:

यह लिंक जो same domain के अंदर ही एक page से दुसरे page को link करते है, उन्हें internal links कहा जाता है, जैसे आप ने अपने वेबसाइट पर एक पोस्ट लिखा उसको पब्लिश कर दिया, उसके बाद आपने दूसरा पोस्ट लिखा उसमे आप ने अपने पहले पोस्ट को लिंक कर दिया यही होता है इंटरलिंक करना।

Anchor Text:

वह text जिसे hyperlink के लिए use किया जाता हो, उसे Anchor Text कहा जाता है। Anchor text backlinks तब अच्छे से काम करते है, जब आप particular keywords के लिए rank करने के लिए try कर रहे हों।

Backlinks बनाने पर SEO में क्या फायदा होता हैं?

इससे पहले की आप को backlinks के advantages के बारे में जानकारी हो, आप को यह जान लेना चाहिए की पिछले कुछ सालों में इसमें बहुत बड़े Changes आये है अब कोई भी किसी भी तरीके से SEO कर के रैंकिंग नहीं ला सकता है। अब SEO के तरीकों में कई तरह के बदलाव हो गए है इसके क्या फायदे है इसके बारे में आप यहाँ जानेगे।

SEO Backlinks अब पहले जैसा नहीं रहा है, आज के समय में इसमें कई बदलाव हो गए है। अब कोई भी गलत तरीके से SEO करके रैंक नहीं पा सकता है। इसलिए अपनी वेबसाइट का SEO Backlinks बहुत सोच समझ कर ही करें।

SEO में Quality sites से backlinks होना जरूरी है और ये backlinks contextual होने चाहिए। For Example: यदि आपकी website educational हो तो आपकी Backlink Educational या इसके related site से ही होनी चाहिए।

1. Organic Ranking Improve होती है
2. Site की faster Indexing होती है।
3. Referral Traffic – इसके major benefit होते है।

Backlinks प्राप्त करना कैसे शुरू करें (What is Backlinks in SEO)

backlinks kya hai

  • SEO में Backlink का नंबर matter नहीं करता बल्कि links की quality कैसी है यह matter करता है।
  • अगर आप अपनी वेबसाइट के paid service links लेते है तो कुछ दिनों में आपको Google Penguin’s algo द्वारा penalized किये जाने की सम्भावना बनी रहती है।
  • WordPress, Blogger, Tumblr, Weebly, Over-Blog, Yolasite और PBN Website पर ब्लॉग बनाये यही सबसे अच्छा तरीका है

Quality Backlinks प्राप्त करने के लिए, कौन-कौन से तरीके हैं?

  • अपनी वेबसाइट या ब्लॉग में Awesome articles लिखें।
  • अपनी वेबसाइट के लिए अन्य साइट और ब्लॉग से Commenting शुरू करें।
  • अपनी साइट के यूआरएल को अच्छी Web directories Websites में submit करें
  • अपनी खुद की 5-10 PBN Websites develop करें।
  • अपनी वेबसाइट से जुड़े टॉपिक वाले ब्लॉग और साइट के अबाउट पेज में जाकर उनके एडमिन से कांटेक्ट करके उनकी वेबसाइट पर अपना गेस्ट पोस्ट लेने का प्रयास करना चाहिए।
  • अपनी साइट से रिलेटेड फोरम लिंक्स बनाने चाहिए।
  • बुकमार्क और वेब डायरेक्ट्रीज लिंक आजकल उतने कामयाब नहीं है।

अपनी Website के लिए अच्छा Backlinks कैसे बनायें ?

अगर आप को अपनी वेबसाइट के लिए SEO करना है या उसके लिए एक अच्छी बैकलिंक्स बनानी है ताकि आप की वेबसाइट भी Google में Rank कर सके तो आपको यह पोस्ट जरूर पढ़ना चाहिए। यहाँ आपको SEO Kaise Karte Hai? से जुडी सभी जानकारी मिलेगी।

आशा करते है कि आप को What is Backlinks in SEO – Backlinks Kya Hai? से जुडी जानकारी समझ में आयी होगी?