Water Pollution in Hindi – जल प्रदूषण – कई रोगों के जनक

Water Pollution In Hindi – जल प्रदूषण – आज कई रोगों के जनक माने जा रहे है..

Water Pollution in Hindi – आज के समय में वैज्ञानिक और तकनीकी, प्रगति ने मनुष्य का जीवन काफी सुविधाजनक बना दिया है, Industrial Revaluation ने करोड़ों लोगों का जीवन खुशहाल बना दिया है नई-नई Medicines की खोज के कारण लोगों की Age लंबी हो रही है और मृत्यु दर पहले से कम होती जा रही है। इस तरह हम कह सकते है की मशीनी युग ने हम सभी को बहुत कुछ दिया है। लेकिन हम सभी जब अपने आस पास के पर्यावरण को देखते है तो यही लगता है की यह प्रगति हमारे ही जीवन में जहर घोल रही है। इस जहर का एक रूप है जो आज हमारे चारो ओर पर्यावरण प्रदूषण के रूप में फैला है।

प्रदूषण के कई प्रकार के होते हैं For Example – वायु प्रदूषण, जल प्रदूषण, भूमि प्रदूषण, ध्वनी प्रदूषण आदि, ये सारे तरह के प्रदुषण ही बहुत घातक है मगर उससे भी घातक जल प्रदुषण है जिसकी वजह से आज लाखों लोगों की जिन्दगी जा रही है। आज जल प्रदुषण होने से लोगों को पीने का सही जल नहीं मिल पा रहा है लोग शुद्ध जल के लिए प्रयास करते है मगर उनको वो सुबिधा नहीं मिल पाती है जिससे वो शुद्ध जल पी सके।

What is Water pollution in Hindi

जल प्रदूषण से तात्पर्य है नदी, झीलों, तालाबों, भूगर्भ और समुद्र के जल में ऐसे पदार्थों का मिश्रण जो पानी को जीव-जंतुओं और प्राणियों के प्रयोग के अयोग्य बना देती है, इससे Water पर आधारित हर जीवन प्रभावित होता है

Water Pollution का मुख्य वजह मानव या जानवरों की जैविक या फिर Industrial Activity के फलस्वरूप पैदा हुये प्रदूषकों को बिना किसी समुचित उपचार के सीधे जल धारायों में विसर्जित कर दिया जाना है।

जल प्रदुषण को सबसे ज्यादा प्रभावित करने वाले

जल प्रदूषण का मुख्य कारण हमारे उद्योग धंधे हैं, आज हमारे देश में ऐसे कई सारे कल कारखाने है जिनका गन्दा पानी नदियों को दूषित कर रहा है सरकार के लाख मना करने के बाद भी कारखाने और बड़ी बड़ी कंपनियों जल प्रदूषण फैला रही है। आये दिन हम सभी सुनते है की अब उद्योग से निकले गंदे पानी को गंगा नहीं में नहीं जाने दिया जायेगा लेकिन दो चार दिन में ये बातें फिर फिर वैसे की वैसे बंद हो जाती है और गन्दगी या या आलम ऐसे ही चलता रहता है जिसकी वजह से आज जल प्रदुषण की समयस्या देश में बढ़ती जा रही है।

आज तो समुद्र का भी पानी ख़राब हो रहा है क्योंकि प्रदूषित नदियों का पानी समुद्र में जा मिलता है तो जो गन्दगी नदियों से आती है वो समुद्र में मिलकर समुद्र को दूषित कर रही है आज हर जगह जल की समस्या है कुछ पहाड़ी इलाके ऐसे है जहाँ पर लोगों को बहुत ही दिकत का सामना करना होता है, वहां के लोगों को आधा जीवन तो केवल पानी भरने में ही चला जाता है। इसके अलावा अनुपयोगी Plastic का बढ़ता ढेर भी समुद्र में बहा दिया जाता है । कई बार दुर्घटना के कारण जहाजों का इंधन समुद्र में फैल जाता है । यह तेल दूर-दूर तक समुद्र में फैल जाता है और समुद्र के पानी पर एक परता बना देता है । इसके कारण पानी में रहनेवाले अनगिनत जीव-जंतु मर जाते हैं ।

इन सब कारणों से आज जल प्रदूषण काफी भयानक समस्या बन चुका है, किसी ज़माने में कहा जाता है की जिन नदियों और तालाब का पानी पीकर लोग जीवित रहते थे उन नदियों और तालाब की आज क्या दशा हो गयी है आज किसी से छुपी नहीं है आज गावों में देखा जाय तो केवल गिने चुने ही तालाब हम सभी को देखने के लिए मिलेगें। एक जमाना था जब हर गावं में एक साफ़ सुथरा तालाब हुआ करता था जिसका पानी तक लोग पी लेते थे वो तालाब इतने साफ और सुनहरे होते थे की कोई उन तालाबों के पास चला जाता था तो उसको वहां से आने का मन नहीं करता था ब्यक्ति यही सोचता रहता था की क्या तालाब है यहाँ कितना अच्छा लग रहा है। मगर आज के समय के तालाब सरकार के द्वारा एक बार बनवा दिए जाते है उसके बाद उसमे न तो कभी पानी डाला जाता है और न ही उसकी कोई देश रेख होती है जिसके कारन जल प्रदुषण का खतरा बना रहता है।

Water Pollution ने अब आपातकाल का रूप ले लिया है, ऐसे में हमें तत्काल कई बड़े कदमों उठाने की जरुरत है, ताकि देशवासियों को सुरक्षित पीने का पानी मिलता रहे और पानी के स्रोत लंबे समय तक सुरक्षित रहे तो हमें आज से ही उसके लिए कदम उठाने पड़ेंगे, इस मामले में और देरी करना घातक सिद्ध हो सकता है Water pollution in Hindi

Water pollution in hindi, Water pollution details in hindi, Water pollution kya hai, essay on Water pollution, Water pollution hindi, Water pollution news, Water pollution meaning in hindi, Water pollution in India..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *