Swachh Bharat Abhiyan Essay in Hindi – स्वच्छ भारत अभियान पर निबंध

By | June 13, 2020

Swachh Bharat Abhiyan Essay in Hindi – स्वच्छ भारत अभियान पर निबंध

कक्षा 3,4,5,6,7,8,9,10 तक के बच्चों को swachh bharat abhiyan in hindi पर निबंध

Swachh Bharat Abhiyan Essay in Hindi

Swachh Bharat Abhiyan Essay in Hindi –

प्रस्तावना – किसी महापुरुष ने कहा था , स्वक्षता ईस्वर का दूसरा रूप होता है जहाँ साफ़ सफाई होती है वहां ईस्वर (भगवान्) का वाश होता है। स्वच्छ भारत अभियान भारत सरकार द्वारा चलाई जा रही एक मुहीम है जिससे पुरे भारत में साफ़ सफाई को लेकर जागरूकता आये और लोग इस अभियान में जुड़कर अपनी जिम्मेदारी समझे और अपने आसपास साफ़ सफाई रखें। स्वच्छता हमारे घर के आंगन से होकर पुरे देश तक जाती है यानि हम सभी को अपने घर के साथ – साथ अपने आसपास भी सफाई रखनी चाहिए ताकि हम और हमारा देश इस समस्या से जल्दी निजाद पा सके। स्वच्छता किसी भी देश ओर राष्ट्र की आवश्यकता होती जहाँ सफाई होती है वहां कई तरह की परेशानी होती ही नहीं।

वैसे सफाई अभियान तो हमारे देश में कई वर्षों से चले आ रहे है मगर जब से नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बने है तब से यह एक अभियान बन गया है, अब इसके बारे में हर जगह बात होती है, लोग और कई संस्था इस अभियान से जुड़कर शहर से लेकर गावों तक सभी को इसके बारे में जागरूक कर रही है ताकि लोगों का इस अभियान में जुड़कर देश को साफ़ सुथरा रखने में योग्यदान हो सके। इसी सन्दर्भ में माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने कुछ लाइन कही है जिसको आप को ध्यान देना चाहिए।

देश की सफाई एकमात्र सफाई, कर्मियों की जिम्मेदारी नहीं है
क्या इस में नागरिकों की कोई भूमिका नहीं है, हमें इस मानसिकता को बदलना होगा
……नरेंद्र मोदी

स्वच्छ भारत अभियान की शुरुआत – (2 Oct 2014)

यह देश में साफ़ सफाई को लेकर लोगों में जागरूकता आये इसके लिए एक अभियान है या कह सकते है की यह एक काम है जो हम सभी देशवासियों के लिए जरुरी है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने महात्मा गांधी जी की जयंती 2 अक्टूबर 2014 को स्वच्छ भारत अभियान की शुरुआत की, इसको भारत मिशन और स्वच्छता अभियान भी कहा जाता है । महात्मा गांधी जी की 145 वी जयंती के अवसर पर इस अभियान की शुरुआत की, श्री नरेंद्र मोदी राजपथ पर जनसमूहों को संबोधित करते हुए राष्ट्रवादीओं से स्वच्छ भारत अभियान में भाग लेने और इसे सफल बनाने को कहा साफ-सफाई के संदर्भ में यह सबसे बड़ा अभियान है। यह अभियान आज एक जन आंदोलन बन गया है जिसमे हर देशवासी अपनी भूमिका निभा रहा है।

इसे भी पढ़े –

Save Water Essay in Hindi – जल संरक्षण पर निबंध (1500 Words)

बैसाखी का महत्व और इतिहास पर व लेख (1200 Words)

स्वच्छता को लेकर महात्मा गांधी जी का सपना –

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी स्वतंत्रता से पहले से ही भारत को स्वच्छ रहना और इसके तहत स्वच्छता को उन्होंने ईश्वर भक्ति के करने के बराबर कहा था। उनका सपना था कि (स्वच्छ भारत) के तहत देश के सभी नागरिक उसके साथ मिलकर देश को अच्छा और साफ़ रखें। गाँधी जी खुद साबरमती आश्रम में सुबह ४ बजे उठकर साफ़ सफाई करते थे और लोगों को यह सन्देश देते थे की अपने घर और आसपास साफ़ सफाई रखो ताकि बिमारियों और कई तरह समस्याओं से निजाद पाया जा सके। उनका सफाई को लेकर एक सपना था की उनका देश साफ़ सफाई के मामले में दुनिया में एक आदर्श देश के रूप में देखा जाय इसी सपने को पूरा करने के लिए मोदी जी ने इसको एक अभियान बना दिया है आज आप कहीं भी जायेगे साफ़ सफाई वाला वो गाँधी जी का स्लोगन आप को जरूर दिखाई देगा जिसपर लिखा होता है।

जो परिवर्तन आप दुनिया में देखना चाहते हैं वह सबसे पहले अपने आप में लागू करें।
…महात्मा गांधी।

स्वच्छ भारत…एक कदम स्वच्छता के ओर

इस स्लोगन में महात्मा गाँधी का फोटो और चश्मे के साथ आप को हर जगह दिखाई देता होगा आजकल तो सरकार ने अपनी सभी वेबसाइट पर नीचे इसको लगाना शुरू कर दिया कुछ लोगों ने तो अपनी पर्सनल वेबसाइट पर भी इसको जगह दिया है यही कारण है की आज लोगों में swachh bharat abhiyan को लेकर काफी जागरूकता आयी है और लोग देश में साफ़ सफाई को लेकर ध्यान देने लगे है बहुत लोग तो ऐसे भी है जो अब बिलकुल ही इस अभियान को फॉलो करते है अगर वो कहीं चिप्स भी खा रहे होते है तो उसका खाली पैक भी इधर उधर नहीं फैकते है, ऐसी जागरूकता अब इस अभियान को लेकर लोगों में आने लगी है।

स्वच्छ भारत अभियान के उद्देश्य –

1. खुले में शौच बंद करवाना, जिससे हर साल न जाने कितने बच्चों की मौत हो जाती है।
2. लगभग 11 करोड़ 11 लाख व्यक्तिगत, सामूहिक शौचालयों का निर्माण करवाना
3. लोगों की मानसिकता को बदलना
4. शौचालय उपयोग को बढ़ावा देना और सार्वजनिक जागरूकता को शुरू करना।
5. गांवो को साफ रखना।
6. 2020 तक सभी घरों में पानी की पूर्ति सुनिश्चित कर के गांवों में पाइपलाइन लगवाना
7. सड़के फुटपाथ ओर बस्तियां साफ रखना।
8. साफ सफाई के जरिए सभी में स्वच्छता के प्रति जागरूकता पैदा करना।

उपसंहार –

स्वच्छता की जागरूकता की मशाल सभी में पैदा होने चाहिए इसके तहत स्कूलों में भी स्वच्छ भारत अभियान के कार्य करवाया जाना चाहिए ताकि बच्चों में भी साफ़ सफाई को लेकर बचपन से ही एक आदत जैसी बन जाए। स्वच्छता से ना केवल हमारा तन साफ रहता है । हमारा मन भी साफ रहता है। स्वच्छ भारत अभियान की मशाल आज हमारे पूरे भारत के लिए आवश्यक है जिसके तहत कई कार्य किये जा रहे है।

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा लिखा गया ये आर्टिकल swachh bharat abhiyan in hindi पसंद आए तो इसे अपने दोस्तों में शेयर करना ना भूले इसे शेयर जरूर करें…

10 lines of swachh bharat abhiyan essay in hindi से जुडी जानकारी हिंदी में

swachh bharat abhiyan essay in hindi with points

essay on swachata in hindi