History of Goa In Hindi – गोवा के बारे में Tourist Place Capital News

History of Goa In Hindi – भारतीय स्टेट गोवा के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में

History of Goa In Hindi – गोवा, Area के हिसाब से India का सबसे Small और Population के हिसाब से चौथा सबसे छोटा State है, पूरी दुनिया में गोवा अपने खूबसूरत समुंदर के किनारों और मशहूर स्थापत्य के लिये जाना जाता है। गोवा पहले पुर्तगाल का एक उपनिवेश था, गोआ का प्रमुख उद्योग पर्यटन है। पर्यटन के आलावा गोआ में लौह खनिज भी विपुल मात्रा में पाया जाता है जो Japan तथा China जैसे देशों में Export होता है। गोआ मतस्य (मछली) उद्योग के लिए भी जाना जाता है लेकिन यहाँ की मछली Export नही की जाती, बल्कि Local Markets में बेची जाती है।

राज्य (State) – गोवा
राज्य दिवस (Establishment Day) – 10 दिसम्बर
राजधानी (Capital) – पणजी
क्षेत्रफल (Area) – 3702 वर्ग किमी

उच्च न्यायालय का परिक्षेत्र (High Court) – मुम्बई (खंडपीठ, नागपुर, पणजी, औरंगाबाद)
सीमाएँ (Boarder) – उत्तर में तेरेखोल नदी (महाराष्ट्र) और सामंत बाड़ी ताल्लुका, दक्षिण में मैसूर, पूर्व में पश्चिमी घाट (सह्याद्री श्रृंखला) व पश्चिम में अरब सागर
नदियाँ (Rivers) – मांडवी, जुवारी, चापोरा
राष्ट्रीय पार्क (National Park) – भगवान महावीर
वन्य प्राणी विहार (Wildlife Sanctuaries) – मोलेम, बोंडला तथा कोटिगावो

पर्यटन आकर्षण (Tourist Place) वागाटोर, कोलवा, एवं कोलनगु सागर तट, अंजुले तथा मीरमार सागर तट, पुराने गोवा का ऐतिहासिक गिरिजाघर, बैसीलिका आफ बोम् जेसु(जहाँ सेंट फ्रांसिस जेवियर का शव रखा है), सेंट कैथेड्रल एवं सेंट फ्रांसिस ऑफ़ आसीसी का गिरिजाघर, कवेलम, मरदालक, मेंगशी, दूध सागर तथा हरवेलम जलप्रपात एवं मेंयम झील।

राजकीय पशु (State Animal) – मूषक मृग
राजकीय पक्षी (State Bird) – धामरा (वभु शीर्षगल)
भाषा (Language) – कोंकड़ी तथा मराठी
जनसँख्या (Population) -14,57,723 (Census 2011)
पुरुष जनसँख्या (Male Population) – 6,87,248
महिला जनसँख्या (Female Population) – 6,60,420

ग्रामीण जनसँख्या (Rural Population) – 50.24%
शहरी जनसँख्या (Urban Population) – 49.76%
जनसँख्या घन्त्व (Population Density) – 394 (2011) प्रति वर्ग किमी
लिंगानुपात (Sex Ratio) – 961 (2001)
शिशु लिंगानुपात (Child Sex Ratio) – 938 (2001)

साक्षरता दर (Literacy Rate) – 87.4% (2011)
पुरुष साक्षरता दर (Male Literacy Rate) – 88.4% (2001)
महिला साक्षरता दर (Female Literacy Rate)- 75.4% (2001)
जिलो की संख्या (Number of Dist) – 02
प्रमुख नगर (Major City) – वास्को-डि-गामा, मापुसा तथा मडगांव
विधानमंडल – एकसदनात्मक

विधानसभा सदस्यों की संख्या (Number of MLA) – 40
लोक सभा सदस्यों की संख्या (Lok Sabha Member) – 02
राज्य सभा सदस्यों की संख्या (Rajya Sabha Member) – 01
खनिज (Mineral) – मैगनीज, लौह-अयस्क, बाक्साइट, चूना पत्थर, विशिष्ट मिट्टियाँ
प्रमुख फसलें (Major Crops) – चावल, दालें, रागी, मक्का, मूंगफली, गन्ना एवं काजू
राज्य का सबसे बड़ा बंदरगाह (State Largest Port) – मर्मुगाव

सिचाई तथा विद्दुत परियोजनाएं (Irrigation and Elect Projects) – सिसौली, टिलारी, दमनगंगा, ओजने तथा मांडवी

Important Points

(i) यह राज्य प्राचीन काल में गोमांच, गोपकपत्तन, गोपकपुरी, गोमांतक, आदि कई नामो से विख्यात रहा है ।
(ii) सन 1498 में वास्को-डि-गामा द्वारा भारत के लिए समुद्री मार्ग की खोज के बाद कई पुर्तगाली यात्री भारत पहुचे ।
(iii) 25 नवम्बर, 1510 में एल्फान्सो द अल्बुकर्क ने विजय नगर के एक सरदार की सहायता से गोवा पर आक्रमण करके इस पर कब्ज़ा कर लिया।

(iv) भारत के स्वतंत्र होने के बाद भी गोवा पुर्तगालियों के कब्जे में रहा, किन्तु पुर्तगाली शासक गोआवासियों की अकांक्षाओ को पूरा नहीं कर पाए और अंततः 19Dec, 1961 को गोवा को मुक्त करा लिया गया। इसके साथ दमन और दीव को मिलाकर केन्द्रशासित प्रदेश बनाया गया।

(v) 10 अगस्त,1987 को गोवा को पूर्ण राज्य का दर्जा दिया गया तथा दमन और दीव को अलग केन्द्रशासित बना दिया गया ।
(i) मर्मुगाव राज्य का प्रमुख बंदरगाह है । यहाँ मालवाहक जहाजों के लिए सुविधाएँ उपलब्ध है। इसके अलावा पणजी, तिशकोल, चोपरा बेतूल और तालपोना में भी बंदरगाह है, मगर इनमे से पणजी व्यस्त बंदरगाह है। हाल में यहाँ जहाजो के लिए एक पत्तन चालू हुआ है ।

(ii) गोवा के महत्त्वपूर्ण स्थल है – कोलवा, कालनगुटे, वागाटोर, हरमल, अंजुना, और सेंट कैथेड्रल चर्च, कावलेम, मारडाल, मंगेशी, तथा वनडोरा मंदिर, अगुदा, तेरेखोल, चपेरा और काबो-डि-रामा किला, प्राकृतिक सौन्दर्य के लिए प्रसिद्द दूधसागर और हरवालम जलप्रपात तथा मायम झील है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *