History of Delhi in Hindi – India Capital दिल्ली के बारे में Tourism Capital History

History of Delhi in Hindi – India Capital दिल्ली के बारे में पूरी जानकारी

History of Delhi in Hindi – दिल्ली भारत की राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र है। इसमें नई दिल्ली सम्मिलित है जो ऐतिहासिक पुरानी दिल्ली के बाद बसा था। यहाँ केन्द्र सरकार की कई प्रशासन संस्थाएँ हैं। औपचारिक रूप से नई दिल्ली भारत की राजधानी है। 1483 वर्ग किलोमीटर में फैला दिल्ली भारत का तीसरा सबसे बड़ा महानगर है। यहाँ की जनसंख्या लगभग 1 करोड 70 लाख है। यहाँ बोली जाने वाली मुख्य भाषायें है: हिन्दी, पंजाबी, उर्दू, और अंग्रेज़ी।

दिल्ली – केंद्र शासित प्रदेश (Territory State) – दिल्ली
राजधानी (Capital) – नयी दिल्ली
क्षेत्रफल (Area) – 1483 वर्ग किमी
सीमाए (Boarder) – उत्तर, पश्चिम तथा दक्षिण में हरियाणा एवं पूर्व में उत्तर प्रदेश
पर्वत (Mountain) – अरावली पर्वत माला के कटक

नदी (River) – यमुना नदी
भाषा (Language) – हिंदी एवं पंजाबी
जिले (Dist) – 09 (Census 2011)
जनसँख्या (Population) – 1,67,53,235 (Census 2011)
ग्रामीण जनसँख्या अनुपात (Rural Population) – 6.82%
नगरिया जनसँख्या अनुपात (Urban Population) – 93.18%

जनसँख्या घनत्व (Population Density) – 11,297 प्रति वर्ग किमी
लिंगानुपात (Sex Ratio) – 821
साक्षरता दर (Literacy Rate) – 86.3% (Census 2011)
पुरुष साक्षरता दर -(Male Literacy Rate) 87.3%
महिला साक्षरता दर (Female Literacy Rate) – 74.7%

विधानमंडल – एकसदनात्मक
विधानसभा सदस्यों की संख्या – 70
लोक सभा सदस्यों की संख्या – 7
राज्य सभा सदस्यों की संख्या – 37

मुख्य फासले (Major Crops) – गेंहू, मक्का, ज्वार, बाजरा, गन्ना

वन क्षेत्र -1443 हेक्टेयर
राजकीय पशु – हनुमान लंगूर
राजकीय पक्षी – धूसर तितर

प्रमुख उद्योग (Major Industries) – रेजर, ब्लेड्स, खेल के सामान, रेडियो, टेलीविजन सेट एवं कल-पुर्जे, साइकिल एवं उसके कल-पुर्जे, प्लास्टिक उद्योग, जूते चप्पल, वस्त्र, रसायन, उर्वरक, दवाए, हौजरी के सामान, सीतल पेय, हाथ के औज़ार, स्टेशन वैगन, पि. वि. सॆ. की वस्तुए आदि।

पर्यटन आकर्षण – ऐतिहासिक स्मारक – हुमायूँ का मकबरा, लोधी का मकबरा, क़ुतुब मीनार, हौज़ ख़ास, इंडिया गेट, नवीन बहाई मंदिर, राष्ट्रपति भवन, संसद भवन, चांदनी चौक, लाल किला, जामा मस्जिद, मुगलस गार्डन, राजघाट, शांति वन, विजय घाट, शक्ति स्थल, पुराना किला, सफदरजंग का मकबरा, जंतर-मंतर, बिरला हाउस, विज्ञान भवन, चिड़ियाघर, राष्ट्रीय संग्रहालय, कनाट प्लेस, बुद्ध जयंती पार्क, रविन्द्र रंग शाला, नेहरु मेमोरियल, कश्मीरी गेट आदि।

Important Points

(i) दिल्ली प्रागैतिहासिक काल से अपना विशेष स्थान रखती है। महाकाव्य महाभारत में भी इसकी चर्चा हुई है।
(ii) बाद में, दिल्ली का शासन एक वंश से दुसरे वंश को स्थानांतरित होता गया। यहाँ मौर्या, गुप्त, पाल वंश से स्थानांतरित होता हुआ अंततः 12वि सदी में चौहान वंश के अंतर्गत आ गया।

(iii) इसके पश्चात लगभग चार शताब्दियों तक अफगान और मुस्लिम आक्रमंकरियो के पास से होते हुए 16वि शताब्दी में मुगलों ने इसे हथिया लिया।

(iv) 18वि शताब्दी के उत्तरार्थ और 19वि शताब्दी के पुर्वार्थ में अंग्रेज़ शासको ने दिल्ली पर अधिकार किया और सन 1911 में यह अंग्रेजो द्वारा शासित भारत की राजधानी बनी।

(v) सन 1947 के बाद यह स्वतंत्र भारत की राजधानी बनी। इसे 1956 में केन्द्रशासित प्रदेश बनाया गया । (vi) दिल्ली के इतिहास में 69वा संविधान संसोधन एक महत्वपूर्ण घटना है, जिसके फलस्वरूप राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र अधिनियम 1991 के लागू होने से दिल्ली में विधानसभा का गठन हुआ ।

History of Delhi In English

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *